Breaking

Friday, 23 August 2019

Jasprit Bumrah Biography in Hindi | जसप्रीत बुमराह का जीवन परिचय


Jasprit Bumrah- जसप्रीत बुमराह एक अंतर्राष्ट्रीय भारतीय क्रिकेटर है | यह राइट हैंड के मीडियम फ़ास्ट गेंदबाज़ है | यह वर्तमान समय मे विश्व के सबसे ख़तरनाक गेंदबाज़ो मे से एक है | इन्हें डेथ ओवर स्पेशलिस्ट और यॉर्कर किंग माना जाता है | बहुत ही कम समय मे सबको अपनी गेंदबाज़ी से प्रभावित किया है जसप्रीत बुमराह ने और ये आज विश्व के नम्बर-1 गेंदबाज़ है | जसप्रीत बुमराह को लाने मे या तराशने मे महेंद्र सिंह धोनी का बहुत बड़ा हाथ है | यूँ तो गरीबी की लकीर को मिटाकर खुद के लिए नई लकीर बनाना कोई आसान काम नहीं होता | लेकिन जसप्रीत बुमराह नहीं ये कर दिखाया है | जसप्रीत बुमराह मैदान पर बल्लेबाज़ों के लिए एक दुश्मन का नाम है | अपने आईपीएल के पहले ही मैच मे विराट कोहली जैसे धाकड़ बल्लेबाज़ का विकेट लिया और यही से शुरुआत हुई इस खिलाड़ी के आगाज़ की !
Jasprit bumrah biography in hindi, jasprit bumrah career
Jasprit Bumrah Biography in Hindi

Jasprit Bumrah Biography in Hindi | जसप्रीत बुमराह का जीवन परिचय

जसप्रीत बुमराह का जन्म 6 दिसंबर 1993 को गुजरात के अहमदाबाद मे एक सिख परिवार मे हुआ | इनके पिता का नाम Jasbir Singh Bumrah और माता का Daljit Bumrah है | इनके पिता एक बिजनेसमैन थे और माता प्राइमरी स्कूल मे प्रिंसिपल है | इनकी फैमिली मे इनकी एक बहन भी है जिसका नाम Juhika Bumrah है | जसप्रीत बुमराह को शुरू से ही खेलो मे काफी रूचि थी | और खासकर वो क्रिकेट को सबसे ज़्यादा पसंद करते थे और बुमराह शुरू से ही बच्चों से अलग थे आमतौर पर बच्चों को बैटिंग करना पसंद था तो वही उन्हें बॉलिंग करना ज़्यादा पसंद था और इसीलिए बुमराह अपने खेल को ज़्यादा आसानी से आगे ले जा सके | साथ ही उन्होंने अपनी शुरूआती स्कूल की पढ़ाई Nirman High School Ahmedabad से की जहां उनकी माता प्रिंसिपल के तौर पर कार्यरत थी | जब जसप्रीत बुमराह महज़ 7 साल के थे तब उनके सर से पिता का साया उठ गया था |  बुमराह के जीवन का ये सबसे कठिन समय था | इस हादसे के बाद उनके परिवार के सदस्यों को गहरा सदमा पंहुचा था लेकिन बुमराह की माता ने इन परिस्थितियों से खुद को संभाला और बच्चों के भविष्य के लिये फिर से अपने प्रयासों मे जुट गयी धीरे धीरे बुमराह का क्रिकेट से लगाव काफी बढ़ गया और 14 साल की उम्र मे उन्होंने क्रिकेट मे अपना करियर बनाने की ठान ली अपनी इस इच्छा को उन्होंने अपनी माता को बता दिया जब बुमराह की माँ ने उनके मुँह से ये बात सुनी तो पहली बार मे  तो उन्होंने ऐसा करने के लिये मना कर  दिया और कहा तुम्हे पता है आज इंडियन टीम मे जाने के लिये कितना कॉम्पीटिशन है लेकिन जब उन्होंने बुमराह का क्रिकेट के प्रति प्यार और लगातार मेहनत देखी तो उन्होंने भी इसके लिये हा कर दी | तब बुमराह ने कई छोटे छोटे क्रिकेट टूर्नामेंट मे भाग लिया और अपनी शानदार गेंदबाज़ी से सभी का दिल जीत लिया और अपनी ज़बरदस्त गेंदबाज़ी से उन्होंने समय को इतना प्रभावित किया कि उन्हें MRF Pace Foundation मे ट्रेनिंग के लिये चुना गया | MRF pace foundation चेन्नई मे स्थित फ़ास्ट  बॉलर के लिये कोचिंग सेंटर है जहां गेंदबाज़ो को गेंदबाज़ी सिखाने के लिये अनुभवी कोच और एक्सपर्ट होते है जहां गेंदबाज़ इनकी देख रेख मे अपनी गेंदबाज़ी मे निखार लाते है | आपकी जानकारी के लिये बता दे इसी foundation से भारत के टॉप गेंदबाज़ रहे Zaheer Khan, Irfan Pathan, Munaf Patel, R.P. Singh और Sreesanth जैसे ज़बरदस्त गेंदबाज़ इसी फाउंडेशन से ट्रेनिंग लेकर भारतीय टीम मे पहुचे थे | और फिर यहां पर आकर बुमराह को अपनी गेंदबाज़ी निखारने मे काफी मदद मिली |

Jasprit Bumrah Career | जसप्रीत बुमराह का करियर

अक्टूबर 2013 मे बुमराह के ज़बरदस्त परफॉरमेंस को देखते हुए उन्हें पहली बार गुजरात की अंडर-19 टीम मे सेलेक्ट किया गया और यहां पर अपना पहला मैच विदर्भ टीम के खिलाफ खेलते हुए Bumrah ने 7 विकेट लेकर विरोधी टीम की कमर तोड़ दी और अपनी गेंदबाज़ी से सबको हैरान कर दिया और इस तरह बुमराह ने अपने  फर्स्ट क्लास के पहले ही मैच मे शानदार शुरुआत की और इस प्रतियोगिता मे सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी बने | और फिर आगे चलकर Syed Mushtaq Ali Trophy मे उनके शानदार प्रदर्शन के कारण भारत के कोच रह चुके जॉन राइट की नज़र उन पर पड़ी और उन्हें जसप्रीत बुमराह की गेंदबाज़ी बहुत ज़्यादा पसंद आयी और 2013 मे जॉन राइट ने इंडिया मे खेले जाने वाले सबसे पॉपुलर टूर्नामेंट आईपीएल के अन्दर उन्हें मुंबई इंडियंस की टीम मे खिलाने का निर्णय लिया और उन्हें मुंबई इंडियंस की टीम मे शामिल कर लिया गया इस तरह बुमराह ने महज़ 19 साल की छोटी से उम्र मे अपना पहला आईपीएल मैच रॉयल चैलेंजर बंगलौर के खिलाफ खेला इस मैच मे उन्होंने शानदार परफॉरमेंस देते हुए 4 ओवर मे 32 रन देकर 3 विकेट हासिल किये इसमें उनका पहला शिकार विश्व के नंबर 1 बल्लेबाज़ विराट कोहली के रूप मे था हालांकि उन्हें इस आईपीएल के सीज़न मे केवल 2 मैच खेलने का मौका मिला फिर अगले साल 2014 मे भी वह मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए दिखाई दिये, इस सीज़न मे उन्होंने 11 मैचों मे कुल 5 विकेट हासिल कर पाए और साल 2015 मे खेले गए आईपीएल मे वह इंजरी की वजह से वह टीम मे नहीं खेल पाए लेकिन बुमराह घरेलु क्रिकेट खेलते रहे और अपना शानदार प्रदर्शन देते रहे | 2016 में भारत और ऑस्ट्रेलिया सीरीज में भारत की हार हो चुकी थी। आखरी मैच में भारत इज़्ज़त बचाने उतरा था, और उसी मैच में बुमराह को पहला मैच खेलने का मौका दिया गया। उन्होंने अपना पहला शिकार स्टीव स्मिथ को बनाया और मैच को भारत ने 6 विकेट से जीत लिया। जिसमे बुमराह के खाते में 2 विकेट आए। इसके 3 दिन बाद बुमराह को 27 जनवरी 2016 को उन्होंने अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय T20 मे डेब्यू ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया | ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध अपने पहले T20 मैच मे 3.3 ओवर मे 23 रन देकर 3 विकेट झटके और भारत मैच जीत गया टीम मे मिले इस मौके को बुमराह ने बेकार नहीं जाने दिया और साल 2016 मे अपनी शानदार गेंदबाज़ी की लय कायम रखी और साल 2016 मे 28 विकेट लेकर T20 मोस्ट विकेट टेकर गेंदबाज़ बन गए और अब वह भारतीय टीम का एक अहम हिस्सा बन चुके थे | आखरी ओवरों मे लगातार यॉर्कर गेंद डालने की क्षमता रखने वाले बुमराह भारतीय टीम के डेथ ओवर स्पेशलिस्ट गेंदबाज़ बन चुके है | अगस्त 2016 मे 2 T20 मैचों की सीरीज मे वेस्टइंडीज के खिलाफ  इन्होने सबसे ज़्यादा विकेट लिए और इसके साथ ही इन्होंने एक साल मे डर्क नन्नेस के नाम  सबसे ज़्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड तोड़ दिया |  बुमराह नीली जर्सी तो पहन ही चुके थे अब इंतेज़ार था सफ़ेद जर्सी का मतलब टेस्ट मैच मे डेब्यू का उनका यह सपना भी बहुत जल्द पूरा हुआ | और 2017 मे साउथ अफ्रीका के खिलाफ होने वाली सीरीज मे टीम का हिस्सा बन कर गए | बुमराह को फिर टेस्ट मैचों मे भी मौका मिलने लगा | 2017 मे वह T20 के नंबर-1 गेंदबाज़ भी बन गए | जसप्रीत बुमराह Malinga के साथ साथ Zaheer खान को भी अपना आदर्श मानते है | 2017 के अंत मे उनकी ज़िन्दगी मे एक  तूफ़ान आ गया जब उनके दादाजी की लाश साबरमती के किनारे मिली | सालो से बुमराह के सम्बन्ध अपने दादा से खराब थे | जिसकी वजह परिवार की आपसी लड़ाई थी | जिसके चलते बुमराह को सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल किया गया | मगर इन सब बातो का बुमराह के खेल पर कोई असर नहीं पड़ा और बेहतर से बेहतर होते चले गए | आज बुमराह icc ranking मे no.1 गेंदबाज़ है | जनवरी 2017 मे इंग्लैंड जब भारत दौरे के लिए आया था तब दूसरे T20 मुक़ाबले मे बुमराह ने भारत की जीत मे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी | जब इंग्लैंड को आखरी ओवर मे जीत के लिए 8 रन चाहिये थे तब गेंद बुमराह के हाथ मे थी तब बुमराह ने आखरी ओवर मे 2 विकेट लेकर भारत को मैच जिताया था और इस मैच मे 4 ओवर मे महज़ 20 रन देकर 2 विकेट लिए थे जिसके चलते उन्हें Player of the match से नवाज़ा गया था |  2019 world cup मे जसप्रीत बुमराह शानदार गेंदबाज़ी करी भले ही भारत यह world cup नहीं जीत पाया मगर जसप्रीत बुमराह की बॉलिंग ने सबका दिल जीत लिया बुमराह 9 मैचों मे 18 विकेट लेकर वर्ल्ड कप 2019 के Top 10 wicket Taker गेंदबाज़ो मे पांचवे स्थान पर रहे | वर्ल्ड कप 2019 के अफगानिस्तान के खिलाफ 10 ओवर मे 39 रन देकर 2 महत्वपूर्ण विकेट लिए थे जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ़ द मैच चुना गया था |अगस्त 2019 को भारत का वेस्टइंडीज दौरा वेस्टइंडीज और भारत की टेस्ट सीरीज के पहले मैच मे बुमराह ने ख़तरनाक गेंदबाज़ी की और मैच की दूसरी पारी मे 8 ओवर मे मात्र 7 रन देकर 5 हासिल किये इस मैच की दोनों पारी को मिलाकर बुमराह ने 6 विकेट लिये पहली पारी मे 1 और दूसरी मे 5 जिससे वेस्टइंडीज की कमर टूट गयी और भारत मैच जीत गया बुमराह की आग उगलती गेंदों का कोई भी  वेस्टइंडीज का बल्लेबाज़ सामना नहीं कर पाया !

Jasprit Bumrah One Day Career | जसप्रीत  बुमराह का एकदिवसीय करियर 

जसप्रीत बुमराह ने अपने एकदिवसीय क्रिकेट करियर में अभी तक 58 मैचों की 58 पारियों में 103 विकेट लिए है | वह 1 बार 5 विकेट ले चुके हैं | उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन 5 विकेट पर 27 रन है जो उन्होंने 27  अगस्त  2017 को श्रीलंका के खिलाफ Pallekele international cricket stadium में लिए थे | जसप्रीत बुमराह का बल्लेबाजी प्रदर्शन देखे तो उन्होंने अभी तक 58 मैचों की 13 पारियों में 19 रन बनाए हैं जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 10 रन है | बुमराह अपने एकदिवसीय करियर में 8 बार नॉटआउट रहे हैं | अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय करियर में बुमराह ने 2 चौके और 1 छक्का लगाया है !

Jasprit Bumrah Test Career | जसप्रीत बुमराह का टेस्ट करियर

जसप्रीत बुमराह ने अपने अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट करियर में अभी तक 11 मैचों की 22 पारियों में 55 विकेट लिए है | वह 4 बार 5 विकेट ले चुके हैं | उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन 6 विकेट पर 33 रन है जो उन्होंने 26 दिसंबर  2018-19 को australia के खिलाफ Melbourne में लिए थे | जसप्रीत बुमराह का बल्लेबाजी प्रदर्शन देखे तो उन्होंने अभी तक 11 मैचों की 16 पारियों में 18 रन बनाए हैं जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 6 रन है | बुमराह अपने टेस्ट करियर में 7 बार नॉटआउट रहे हैं | अंतरराष्ट्रीय टेस्ट करियर में बुमराह ने 1 चौका  लगाया है !

Jasprit Bumrah T20 Career | जसप्रीत बुमराह का टी20 करियर

जसप्रीत बुमराह ने अपने अंतर्राष्ट्रीय T20 क्रिकेट करियर में अभी तक 42 मैचों की 42 पारियों में 51 विकेट लिए है |  उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन 3 विकेट पर 11 रन है | जो उन्होंने 20 june 2016 को Zimbabwe के खिलाफ Harare Sports Club में लिए थे | जसप्रीत बुमराह का बल्लेबाजी प्रदर्शन देखे तो उन्होंने अभी तक 42 मैचों की 6 पारियों में 8 रन बनाए हैं जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 7 रन है | बुमराह अपने T20 करियर में 4 बार नॉटआउट रहे हैं | अंतरराष्ट्रीय T20 करियर में बुमराह ने 1 चौका  लगाया है !

Jasprit Bumrah IPL Career | जसप्रीत बुमराह का आईपीएल करियर

जसप्रीत बुमराह ने अपने  आईपीएल  क्रिकेट करियर में अभी तक 77 मैचों की 77 पारियों में 82 विकेट लिए है | उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन 3 विकेट पर 7 रन है जो उन्होंने 19 मई 2017 को Kolkata Knight Riders के खिलाफ Bengaluru में लिए थे | जसप्रीत बुमराह का बल्लेबाजी प्रदर्शन देखे तो उन्होंने अभी तक 77 मैचों की 12 पारियों में 35 रन बनाए हैं जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 16 रन है | बुमराह अपने आईपीएल करियर में 9 बार नॉटआउट रहे हैं |  आईपीएल  करियर में बुमराह ने 2 चौके और 1 छक्का लगाया है !

Read more:-

युजवेंद्र चहल का जीवन परिचय


गौतम गंभीर का जीवन परिचय


महेंद्र सिंह धोनी का जीवन परिचय


Note: - Jasprit Bumrah Biography in hindi कैसी लगी आप सबको प्लीज कमेंट करके जरूर बताएं और हमारे द्वारा लिखे गए  आर्टिकल में आपको कोई भी कमी नजर आती है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं हम उसमें सुधार करके अपडेट कर देंगे | अगर आपको हमारे आर्टिकल पसंद आए तो इसे Facebook,  WhatsApp और अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें !

No comments:

Post a Comment