Breaking

Wednesday, 21 August 2019

Yuzvendra Chahal Biography in Hindi | युजवेंद्र चहल का जीवन परिचय

Yuzvendra Chahal- युजवेंद्र चहल एक अंतर्राष्ट्रीय भारतीय  क्रिकेटर है, जो घरेलु क्रिकेट मे हरियाणा टीम की ओर से खेलते है | यह एक बेहतरीन लेग ब्रेक बॉलर है, शतरंज के खेल मे भी भारत के लिये खेल चुके युजवेंद्र चहल क्रिकेट मे शतरंज जैसी चाल और चतुराई से अपनी गेंदों पर बल्लेबाज़ों को फसा लेते है | शानदार Leg-Break गूगली से युजवेंद्र चहल अच्छे अच्छे बल्लेबाज़ों को छकाने मे और पवेलियन भेजनें मे माहिर है | इनकी गूगली बल्लेबाज़ों पर काफी भारी पड़ती है | चहल अपना आइडल ऑस्ट्रेलिया के महान गेंदबाज़ shane warne को मानते है | चहल एकमात्र ऐसे खिलाड़ी है जो भारत का चैस और क्रिकेट मे प्रतिनिधित्व करते है | उन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर शतरंज मे कई चैंपियनशिप जीती भी है, और आज भारत के एक बेहतरीन लेग स्पिन गेंदबाज़ है !
Yuzvendra chahal biography in hindi, yuzvendra chahal career
Yuzvendra Chahal Biography in Hindi

Yuzvendra Chahal Biography in Hindi | युजवेंद्र चहल का जीवन परिचय 


युजवेंद्र चहल का जन्म 23 july 1990 मे Haryana के Jind मे हुआ | युजवेंद्र चहल के पिता का नाम K.K. Chahal है जो Jind Court मे Advocate है, और माता का नाम Sunita Devi है जो एक Housewife है | इनकी दो बड़ी बहने भी है जो ऑस्ट्रेलिया मे रहती है | युजवेंद्र चहल ने अपनी पढ़ाई Jind के ही DAVC Public School से पूरी की | चहल के पिता क्रिकेट मे उनके लिये पहले गुरु की तरह साबित हुए | पढ़ाई मे शुरू से ही चहल का मन नहीं लगता था मगर चैस और क्रिकेट मे उनका दिमाग़ पहले से ही बहुत तेज़ चलता था | दोनों खेलो को एकसाथ खेलते खेलते एक दिन वो  क्रिकेट को ही अपना भविष्य बना बैठे और क्रिकेट की दुनिया मे चहल के चाहने वालो की अब कमी नहीं है | लेकिन बहुत कम लोग ही जानते होंगे कि चहल की खुद की पहली चाहत शतरंज की चाल थी | वो राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई टूर्नामेंट खेल चुके है | महज़ सात साल की उम्र मे ही चहल ने क्रिकेट और शतरंज दोनों मे ही अपना सिक्का जमाना शुरू कर दिया था | शतरंज के खेल मे पैसो की कमी के चलते आगे बात नहीं बन पाई, इसके बाद उन्होंने क्रिकेट पर फोकस करना शुरू किया इस बात का जब उनके पिता को पता चला तो उन्होंने चहल के लिये डेढ़ एकड़ खेत मे क्रिकेट पिच बनवा दी | चहल रोज़ इस मैदान मे प्रैक्टिस करने लगा चहल के दोस्त और परिवार के लोग बताते है कि खेत मे डंडा लगाकर वो घंटो बाल फेंकता रहता था और कभी थकता नहीं था | नये नये प्रयोग की आदत ने खेत वाले मैदान से ही चहल को परफेक्ट बनाने की शुरुआत कर दी थी !

Yuzvendra Chahal Career | युजवेंद्र चहल का  करियर

युजवेंद्र चहल के सक्सेस क्रिकेट करियर मे इनके पिता का रोल बहुत शानदार रहा है | कहते है न मेहनत कभी बेकार नहीं जाती है अगर आप मेहनत करते हो तो आपको आपकी मेहनत फल आज नहीं तो कल ज़रूर मिलता है चहल की मेहनत भी बेकार नहीं गयी और खेलते खेलते एक दिन उन्होंने स्टेट अंडर-14 टीम मे जगह बना ली | इसके बाद चहल को कई मौके मिले जो खुद को साबित करने के लिये काफी थे | लेकिन  लोगो की नज़र युजवेंद्र चहल की प्रतिभा जब पड़ी जब उन्होंने साल 2009 मे जब state under-19 के लिये  बिहार की तरफ से खेलते हुए 34 विकेट हासिल कर लिये थे | इसके बाद उनके लिए सभी दरवाज़े खुलते गए, हरयाणा की रणजी टीम का हिस्सा बन गए और 3 नवंबर 2009 को मध्य प्रदेश के खिलाफ अपना डेब्यू मैच खेला ! चहल कई बार क्रिकेट पर बोलते हुए बताते है की इस खेल मे विरोधियो को घेरने की कला शतरंज से ही सीखी है | वो क्रिकेट के खेल मे भी शतरंज की थ्योरी को अपना कर दो कदम आगे सोच कर बल्लेबाज़ों को गेंद फेंकता है | क्रिकेट के सबसे पॉपुलर टूर्नामेंट IPL मे चहल को साल 2011 मे मुंबई इंडियंस की टीम की तरफ से खेलने का मौका मिला लेकिन यह आईपीएल मे मुंबई इंडियंस के लिये एक ही मैच खेले | लेकिन 2011 के चैंपियन लीग T20 मे ये सारे मुक़ाबलों मे नज़र आए | इन्होंने रॉयल चैलेंजर बंगलौर के खिलाफ अंतिम मैच मे 3 ओवर मे सिर्फ 9 रन देकर 2 हासिल किये जिसकी मदद से मुंबई इंडियंस अपने छोटे से 139 रन के दिए हुए लक्ष्य को सुरक्षित कर मैच जीत पाई ! 2014 आईपीएल खिलाड़ियों की नीलामी मे रॉयल चैलेंजर बंगलौर ने युजवेंद्र चहल को 10 लाख रुपए मे अपनी टीम मे ख़रीदा | 2014 के आईपीएल मे इन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ मैन ऑफ़ द मैच चुना गया | युजवेंद्र चहल 2011 मे घरेलु क्रिकेट मे खेलना लगा था लेकिन शुरू के 6 सालो मे उन्हें केवल   20 फर्स्ट क्लास मैच खेलने का मौका मिला इसके पीछे का कारण था कि चहल जिस टीम से खेलता था उस टीम मे पहले से ही अमित मिश्रा का दबदबा था | देर लगी लेकिन कम घरेलु मैच खेलने के बावजूद भी वह दिन आया जब चहल को साल 2016 मे टीम इंडिया का हिस्सा बनाया गया | 2016 मे ज़िम्बाब्वे दौरे के लिये इन्हें अंतिम 15 खिलाड़ियों मे शामिल किया गया | इन्होंने अपना पहला एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैच 11 जून 2016 को हरारे स्पोर्ट्स क्लब मे ज़िम्बाब्वे के विरुद्ध खेला | इस सीरीज के दूसरे मैच मे इन्होंने 25 रन देकर 3 विकेट हासिल किये इंटरनेशनल क्रिकेट मे पहली बार इस शानदार प्रदर्शन के इन्हें मैन ऑफ़ द मैच चुना गया | इस दौरे पर इन्होंने अपने T20 करियर की शुरुआत की 18 जून 2016 को इन्होंने अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय T20 मैच ज़िम्बाब्वे के खिलाफ हरारे मे खेला | इसके बाद 1 फ़रवरी 2017 को इंग्लैंड के खिलाफ T20 मैच मे 6 विकेट लेने वाले ये भारत के पहले गेंदबाज़ बने | चहल अंतर्राष्ट्रीय T20 क्रिकेट मे यह कारनामा करने वाले पहले लेग स्पिनर है जिन्होंने T20 मैच मे 6 विकेट लिये है | युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी वर्तमान समय मे स्पिन गेंदबाज़ी मे विश्व की सबसे ख़तरनाक जोड़ी है जो विरोधी टीम पर काफी भारी पड़ती है | अपनी मेहनत और लगन के बल पर रविचंद्रन आश्विन और रविन्द्र जडेजा जैसे दिग्गज गेंदबाज़ होने के बावजूद उन्होंने टीम इंडिया मे अपनी जगह पक्की की | चहल एकमात्र ऐसे खिलाड़ी है जो शतरंज और क्रिकेट मे भारत का प्रतिनिधित्व करते है इनका नाम विश्व शतरंज संघ की अधिकृत साइट पर शामिल है !

Yuzvendra Chahal One Day Career | युजवेंद्र चहल का एकदिवसीय करियर 

युजवेंद्र चहल ने अपने एकदिवसीय क्रिकेट करियर में अभी तक 50 मैचों की 49 पारियों में 85 विकेट लिए है | वह 2 बार 5 विकेट ले चुके हैं | उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन 6 विकेट पर 42 रन है जो उन्होंने 18  जनवरी 2018-19 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबोर्न में लिए थे | बल्लेबाजी प्रदर्शन 50 मैचों की 8 पारियों में 39 रन बनाए हैं जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 18 रन है | चहल अपने एकदिवसीय करियर में 3 बार नॉटआउट रहे हैं | अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय करियर में चहल ने 6 चौके लगाए हैं !

Yuzvendra Chahal T20 Career | युजवेंद्र चहल का टी20 करियर 

युजवेंद्र चहल ने अपने T20 क्रिकेट करियर में अभी तक 31 मैचों की 31 पारियों में 46 विकेट लिए है | वह 1 बार 5 विकेट ले चुके हैं | उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन 6 विकेट पर 25 रन है जो उन्होंने 1 फ़रवरी 2016-17 को इंग्लैंड के खिलाफ बंगलौर में लिए थे | बल्लेबाजी प्रदर्शन 31 मैचों की 3 पारियों में 4 रन बनाए हैं जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 3 रन है | चहल अपने T20 करियर में 2 बार नॉटआउट रहे हैं !

Yuzvendra Chahal IPL Career | युजवेंद्र चहल का आईपीएल करियर 

युजवेंद्र चहल ने अपने आईपीएल क्रिकेट करियर में अभी तक 84 मैचों की 83 पारियों में 100 विकेट लिए है | उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन 4 विकेट पर 25 रन है जो उन्होंने 2016 को किंग्स इलेवन पंजाब  के खिलाफ लिए थे | बल्लेबाजी प्रदर्शन 84 मैचों की 14 पारियों में 21 रन बनाए हैं जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 4 रन है | चहल अपने आईपीएल करियर में 9 बार नॉटआउट रहे हैं |




Note: -  Yuzvendra chahal  Biography in hindi कैसी लगी आप सबको प्लीज कमेंट करके जरूर बताएं और हमारे द्वारा लिखे गए  आर्टिकल में आपको कोई भी कमी नजर आती है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं हम उसमें सुधार करके अपडेट कर देंगे | अगर आपको हमारे आर्टिकल पसंद आए तो इसे Facebook,  WhatsApp और अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें !



No comments:

Post a Comment