Breaking

Wednesday, 9 October 2019

Virat Kohli Biography in Hindi | विराट कोहली का जीवन परिचय


Virat Kohli- विराट कोहली भारत के अब तक के  सबसे सफलतम खिलाड़ियों में से एक हैं | यह राइट हैंड बल्लेबाज़ और राइट हैंड के गेंदबाज़ भी हैं | यह विश्व के एकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जिनका क्रिकेट के तीनो फॉर्मेट टेस्ट, एकदिवसीय और टी-20 में रनो का औसत 50 से ऊपर का हैं | इन्हें क्रिकेट की दुनिया मे रन मशीन कहा जाता हैं | अगर रन चेस करने की बात की जाए तो विराट कोहली के लिए कोई भी टारगेट मायने नहीं रखता | विराट कोहली ने अपनी धाकड़ बल्लेबाज़ी से भारतीय टीम को मज़बूती दी हैं | भारतीय क्रिकेट के महान बल्लेबाज़ सचिन तेंदुलकर के अगर कोई भविष्य में रिकॉर्ड तोड़ सकता हैं तो वह विराट कोहली हैं ! विराट कोहली ने अपने शानदार प्रदर्शन से भारत में ही विश्वभर क्रिकेट प्रेमियों के दिल में अपनी एक अलग ही जगह बनाई है | वर्तमान समय में विराट कोहली भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान हैं ! विराट कोहली अपने लुक के कारण भी काफी चर्चा में रहते है |
Virat Kohli Biography in hindi, Virat Kohli career
Virat Kohli Biography in Hindi


Virat Kohli Biography in Hindi | विराट कोहली का जीवन परिचय

विराट कोहली का जन्म 5 नवंबर 1988 को दिल्ली के उत्तम नगर में एक पंजाबी परिवार में हुआ | विराट कोहली के पिता का नाम प्रेम कोहली था जो पेशे से एक क्रिमिनल वकील तथा माता का नाम सरोज कोहली जो की एक हाउसवाइफ थी | विराट कोहली घर में सबसे छोटे है उनका अलावा उनका एक बड़ा भाई विकास कोहली और एक बड़ी बहन भावना कोहली है | विराट कोहली को बचपन से सचिन तेंदुलकर को खेलते हुए देखना बहुत अच्छा लगता था | कोहली के परिवार के अनुसार जब वे 3 साल के थे तो क्रिकेट बैट उठा कर बल्लेबाज़ी के लिए खड़े हो जाते थे और अपने पिता को बोलिंग करने को कहते थे | विराट का बचपन दिल्ली में ही बीता और वही के एक स्कूल, विशाल भारतीय पब्लिक स्कूल से शुरुआती शिक्षा प्राप्त की | क्रिकेट उनका जूनून था और पढ़ाई उनका शौक़ था | इस कारण स्कूल में ब्रिलियंट स्टूडेंट्स के ग्रुप में शामिल किए जाते थे | जैसे जैसे विराट कोहली की उम्र बढ़ती गयी उनका ज़्यादा ध्यान क्रिकेट की तरह आकर्षित होता गया | विराट कोहली के पिता शुरुआत से ही विराट कोहली की दिलचस्पी को समझ गए थे | विराट की प्रतिभा को देखते हुए उनके पड़ोसियों ने विराट के पिता को सलाह दी की विराट को प्रोफेशनल क्रिकेट की ट्रेनिंग दी जाए | जब विराट 9 वर्ष के थे तो उनके पिता ने उन्हें क्रिकेट सिखने के लिए सन 1998 में स्थापित West Delhi Cricket Academy में भर्ती करा दिया | ताकि विराट क्रिकेट को अच्छे समझ सकें और उस academy में कोच राजकुमार शर्मा के अंडर क्रिकेट सिखने लगे | वे अक्सर अपनी प्रैक्टिस टेस्ट करने के लिए नोएडा में स्थित Sumit Dogra Academy में खेलने जाया करते थे | बचपन से ही विराट का ध्यान सिर्फ और सिर्फ क्रिकेट पर होने की वजह से इन्होंने महज़ 12वी कक्षा तक ही पढ़ाई की |

Virat Kohli Career | विराट कोहली का करियर

विराट कोहली के करियर की शुरुआत अक्टूबर 2002 में दिल्ली की अंडर-15 टीम से हुई जिसमें उनको Polly Umriger Trophy खेलने के लिए चुना गया | उस साल उन्होंने अपनी टीम के लिए सबसे ज़्यादा रन बनाए थे | जिस कारण उन्हें अगले साल इसी टीम का कप्तान बना दिया गया | इस ट्रॉफी में उन्होंने 5 पारियो में 390 रन बनाए थे जिसमें 2 शतक और 2 अर्धशतक शामिल थे.
अंडर-15 के शानदार प्रदर्शन की बदौतल जल्द ही विराट कोहली साल 2004 के अंत में अंडर-17 टीम में शामिल कर लिया गया, तब उन्हें दिल्ली की तरफ से Vijay Merchant Trophy खेलने का मौका मिला तब विराट ने इस मौके का भरपूर फायदा उठाते हुए इस ट्रॉफी की 4 मैचों की सीरीज में शानदार प्रदर्शन करते हुए 450 से ज़्यादा रन बनाए थे, और उन्होंने इस सीरीज के एक मैच में दोहरा शतक जड़ते हुए नाबाद 251 रन बनाए थे | जिसकी वजह से वह क्रिकेट प्रेमियों की नज़र में आने लगे | इस प्रदर्शन की बदौलत विराट अगले साल की इस ट्रॉफी में सुर्खियों में आ गए थे | इस बार उन्होंने 7 मैचों में 757 रन बनाकर सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया था | इस टूर्नामेंट में कोहली 84 की शानदार औसत से रन बनाए थे जिसमें दो शतक भी शामिल थे |
विराट कोहली की लाइफ में सबसे महत्वपूर्ण पल तब आया जब उन्हें उनके शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत की अंडर-19 टीम में चुन लिया गया | उस समय विराट कोहली का पहला विदेशी टूर इंग्लैंड का था | विराट ने अंडर-19 में पाकिस्तान के खिलाफ बहुत ही बढ़िया प्रदर्शन किया था | जिसके बाद उनकी प्रतिभा को देखते हुए विराट को टीम में एक स्थाई खिलाड़ी के रूप में रख लिया गया | विराट ने अपने देश के लिए खेलना अपने पिता का सपना बताया था जिसके लिए वे क्रिकेट दिलो जान से खेलते जा रहे थे | इसके बाद 2008 में विराट कोहली को भारत की अंडर-19 टीम का कप्तान बना दिया गया | और उनको मलेशिया में होने वाले अंडर-19 वर्ल्ड कप की कप्तानी करनी थी | कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने मलेशिया में हुए अंडर-19 वर्ल्ड कप को जीता था | इससे विराट कोहली का एक रूप और सामने आया जो ये दर्शाता था कि विराट कोहली बेहतरीन बल्लेबाज़ होने के साथ साथ एक अच्छे कप्तान भी हैं | और कप्तान कोहली ने 2008 में Border Gavaskar Trophy में भी भारत को अंडर-19 में भी जीत दिलाई थी | इसके बाद विराट कोहली का सेलेक्शन भारतीय इंटरनेशनल वनडे टीम में हुआ | उन्होंने अपना पहला मैच तब खेला जब भारतीय टीम श्रीलंका में वनडे सीरीज खेलने गयी | उस वक़्त विराट कोहली को इस दौरे के लिए टीम में शामिल कर लिया गया | दौरे की शुरुआत में उन्हें India-A टीम की तरफ से खेलने का मौका मिला था | लेकिन इसके बाद जब भारत के दो महान बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर चोटिल हो गए थे | तब विराट कोहली पहली बार उनकी जगह भारतीय टीम में खेलने का मौका मिला था | इस सीरीज में उन्होंने अपना पहला एकदिवसीय अर्धशतक भी लगाया था | यह सीरीज भारत जीती थी | इसके बाद कई बार विराट कोहली को भारतीय टीम में चुना गया था | लेकिन भारतीय टीम दिग्गज खिलाड़ियों की होने की वजह से उन्हें कम ही खेलने का मौका मिल पाता था | लेकिन जब जब विराट को भारतीय टीम में खेलने मौका मिलता तब तब वह शानदार प्रदर्शन दिखाते थे | जिसके चलते उन्होंने भारतीय टीम अपनी जगह सुनिश्चित कर ली थी | उन्होंने अपनी शानदार बल्लेबाज़ी से क्रिकेट प्रेमियों और क्रिकेट विशेषज्ञों को अपनी ओर आकर्षित किया | विराट कोहली की प्रतिभा को देखते हुए उन्हें भारतीय टीम का उपकप्तान बना दिया गया | फिर जब भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कप्तानी छोड़ी तो विराट कोहली को भारतीय क्रिकेट टीम के तीनो फॉर्मेट का कप्तान बना दिया गया | विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम काफी अच्छा प्रदर्शन करती रही | वैसे विराट कोहली के शुरुआती अंतर्राष्ट्रीय मैचों की बात करें तो वो कुछ खास नहीं कर पाए थे, चाहे वो एकदिवसीय हो या टेस्ट | विराट कोहली अपने पहले एकदिवसीय मैच में श्रीलंका के खिलाफ मात्र 12 रन ही बना सकें थे | वही उनका टेस्ट डेब्यू भी खास नहीं रहा था उन्होंने अपना पहला टेस्ट मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला जिसमें उन्होंने पहली पारी में 4 और दूसरी पारी मात्र 15 रन ही बनाए थे | अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू अच्छा ना होने के बावजूद विराट कोहली ने हिम्मत नहीं हारी और विराट कोहली भारतीय टीम उभरते हुए सितारे बनकर सामने आए | जब भारतीय टीम टारगेट का पीछा कर रही होती है तब विराट के खेलने की शैली बिलकुल अलग हो जाती है | और विराट कोहली ने अपने अकेले दम पर भारतीय टीम को काफी मैच जिताए हैं | चाहे वो एकदिवसीय मैच हो या टी-20 जिसकी वजह लोग विराट को Chase Master के नाम से पुकारते हैं |

Virat Kohli One day Career | विराट कोहली का एकदिवसीय करियर

विराट कोहली ने अपने  एकदिवसीय क्रिकेट करियर में अभी तक 239 मैच खेले हैं, जिनकी 230 पारियों में 11520 रन बनाए हैं, जिसमें उनके 54 अर्धशतक  और 43 शतक शामिल है विराट का सर्वाधिक स्कोर 183 रन है जो उन्होंने 18 मार्च 2012 को  ढाका में पाकिस्तान के खिलाफ बनाए थे | जिसमें उन्होंने 148 गेंदों का सामना करते हुए शानदार 183 रन की पारी खेली थी, इस पारी में उन्होंने 22 चौके और 2 छक्के लगाए थे | अभी तक एकदिवसीय करियर में विराट  39 बार नॉट आउट रहे हैं | अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय कैरियर में कोहली ने 1085 चौके और 120 छक्के लगाए हैं | अपने एकदिवसीय गेंदबाजी प्रदर्शन में कोहली ने अभी तक 239 मैचों की 48 पारियों में 4 विकेट ले चुके हैं | उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़ी प्रदर्शन 1 विकेट पर 15 रन है !

Virat Kohli Test Career | विराट कोहली का टेस्ट करियर

विराट कोहली ने अपने  टेस्ट क्रिकेट करियर में अभी तक 81 मैच खेले हैं, जिनकी 138 पारियों में 7054 रन बनाए हैं, जिसमें उनके नाम 22 अर्धशतक,  26 शतक शामिल है, और 7 दोहरे शतक भी शामिल हैं | विराट का सर्वाधिक स्कोर 254 रन है, जो उन्होंने अक्टूबर 2019 को पुणे में साउथ अफ्रीका के खिलाफ बनाए थे | जिसमें उन्होंने 336 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद शानदार 254 रन की पारी खेली थी, इस पारी में उन्होंने 33 चौके और 2 छक्के लगाए थे | अभी तक टेस्ट करियर में विराट 10 बार नॉट आउट रहे हैं | अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट करियर में कोहली ने 785 चौके और 22 छक्के लगाए हैं.

Virat Kohli T20 करियर | विराट कोहली का टी-20 करियर

विराट कोहली ने अपने अंतर्राष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट करियर में अभी तक 72 मैच खेले हैं, जिनकी 67 पारियों में 2450 रन बनाए हैं, जिसमें उनके नाम 22 अर्धशतक और अभी तक इस प्रारूप में शतक बनाने में वह सफलता प्राप्त नहीं कर पाए हैं, विराट का सर्वाधिक स्कोर 90 रन है, जो उन्होंने 26 जनवरी   2016 को एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाए थे, जिसमें उन्होंने 55 गेंदों का सामना करते हुए शानदार 90 रन की पारी खेली थी, इस पारी में उन्होंने 9 चौके और 2 छक्के लगाए थे | अभी तक टी-20 करियर में विराट 18 बार नॉट आउट रहे हैं | अंतर्राष्ट्रीय टी-20 करियर में कोहली ने 235 चौके और 58 छक्के लगाए हैं | अपने टी-20 गेंदबाजी प्रदर्शन में कोहली ने अभी तक 72 मैचों की 12 पारियों में 4 विकेट ले चुके हैं | उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़ी प्रदर्शन 1 विकेट पर 13 रन है !

Virat Kohli IPL Career | विराट कोहली का आईपीएल करियर

विराट कोहली ने अपने आईपीएल क्रिकेट करियर में अभी तक 177 मैच खेले हैं, जिनकी 169 पारियों में 5412 रन बनाए हैं, जिसमें उनके नाम 36 अर्धशतक और 5 शतक हैं, विराट का सर्वाधिक स्कोर 113 रन है, जो उन्होंने 18 मई 2016 को बेंगलोर में किंग इलेवन पंजाब के खिलाफ बनाए थे, जिसमें उन्होंने 50 गेंदों का सामना करते हुए ताबड़तोड़ 113 रन की पारी खेली थी, इस पारी में उन्होंने 12 चौके और 8 छक्के लगाए थे | अभी तक आईपीएल करियर में विराट 26 बार नॉट आउट रहे हैं | आईपीएल क्रिकेट करियर में कोहली ने 480 चौके और 190 छक्के लगाए हैं | अपने आईपीएल गेंदबाजी प्रदर्शन में कोहली ने अभी तक 177 मैचों की 26 पारियों में 4 विकेट हासिल किये हैं | उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़ी प्रदर्शन 2 विकेट पर 25 रन है !

Virat Kohli Marriage | विराट कोहली की शादी 

11 दिसंबर 2017 को विराट कोहली ने इटली में बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा से शादी की | और आज ये जोड़ा काफी खुशहाल ज़िन्दगी बिता रहा है | क्योंकि दोनों ही अपनी फील्ड में कामयाब है | विराट कोहली के काफी ज़्यादा लोग फ़ॉलो करते है | विराट कोहली काफी स्टाइलिश खिलाड़ी है | ये अक्सर अपने लुक के कारण चर्चा में रहते हैं ! विराट उन खिलाड़ियों में से हो जो अपनी फिटनेस को लेकर काफी गंभीर रहते हैं ! विराट कोहली मैदान पर काफी जोशीले खिलाड़ी ये हमेशा अपने स्वभाव के कारण लोगों में चर्चा का विषय बने रहते हैं ! अपने स्वाभाव की वजह से ही यह काफी बार विवादों में भी घिरे है !

Virat Kohli Records | विराट कोहली के रिकॉर्ड

1. सबसे तेज़ एकदिवसीय शतक बनाने वाले भारतीय खिलाड़ी मात्र 52 गेंदों में !
2. 1000 रन बनाने वाले भारतीय खिलाड़ियों में सबसे तेज़ !
3. 4000 रन बनाने में भारतीयों में सबसे तेज़ और वर्ल्ड में तीसरे पायदान पर !
4. 5000 रन बनाने में भारतीय खिलाड़ियों में सबसे तेज़ और वर्ल्ड क्रिकेट में दूसरे पायदान पर !
5. 6000 रन बनाने में भारतीयों में सबसे तेज़ और वर्ल्ड क्रिकेट में दूसरे पायदान पर !
6. 7000 रन बनाने वर्ल्ड क्रिकेट में सबसे तेज़ !
7. एकदिवसीय मैचों में 10 शतक बनाने में भारतीय खिलाड़ियों में सबसे तेज़ और वर्ल्ड क्रिकेट में दूसरे पायदान पर !
8. एकदिवसीय मैचों में 15 शतक बनाने में भारतीय खिलाड़ियों में सबसे तेज़ और वर्ल्ड क्रिकेट में दूसरे पायदान पर !
9. एकदिवसीय मैचों में 20 शतक बनाने में भारतीय खिलाड़ियों में सबसे तेज़ और वर्ल्ड क्रिकेट में दूसरे पायदान पर !
10. एकदिवसीय मैचों में 25 शतक बनाने वर्ल्ड क्रिकेट में पहले पायदान पर !
11. टी-20 क्रिकेट में सबसे तेज़ 1000 रन पूरे करने में वर्ल्ड क्रिकेट में पहले पायदान पर !
12. 7 दोहरे शतक बनाने वाले एकमात्र कप्तान !

Virat Kohli Awards | विराट कोहली के पुरस्कार

1. आईसीसी ओडीआई प्लेयर ऑफ़ द ईयर 2012
2. बीसीसीआई का Polly Umrigar Award 2011-12, 2014-15, 2015-16
3. अर्जुन अवार्ड 2013
4. पद्मश्री अवार्ड 2017



Read more:-



Note: - Virat Kohli Biography  in hindi कैसी लगी आप सबको प्लीज कमेंट करके जरूर बताएं और हमारे द्वारा लिखे गए  आर्टिकल में आपको कोई भी कमी नजर आती है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं हम उसमें सुधार करके अपडेट कर देंगे | अगर आपको हमारे आर्टिकल पसंद आए तो इसे Facebook,  WhatsApp और अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें !


Email subscription करें और पाएं new & more Article आपकी मेल पर सबसे पहले !

No comments:

Post a Comment