Breaking

Saturday, 15 December 2018

सिक्योरिटी गार्ड कैसे बना बॉलीवुड का जाना माना सुपरस्टार !

Biography of nawazuddin Siddiqui !  नवाजुद्दीन सिद्दीकी का जीवन परिचय

Nawazuddin siddiqui,  Nawazuddin siddiqui height

 अगर इंसान में कुछ कर दिखाने का जज्बा और जुनून होता है तो यह मायने नहीं रखता कि वह गांव से है या शहर से या वह कैसा दिखता है उसकी क्वालिफिकेशन क्या है आज हम एक ऐसे ही बॉलीवुड के सुपरस्टार के बारे में बात करेंगे जिन्होंने अपनी मेहनत और लगन के बल पर बॉलीवुड में अपनी एक अलग ही पहचान बनाई है जी हां हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड के सुपरस्टार नवाजुद्दीन सिद्दीकी के बारे में ! यूपी के मुजफ्फरनगर के एक छोटे से गांव बुढ़ाना के होने के बावजूद नवाजुद्दीन सिद्दीकी आज बॉलीवुड के जाने माने सुपरस्टार है यह सब उनकी मेहनत और लगन का फल है नवाजुद्दीन सिद्दीकी का जन्म 19 मई 1974 को मुजफ्फरनगर के बुढाना गांव में हुआ था नवाजुद्दीन सिद्दीकी के पिता का नाम नवाबउद्दीन सिद्दीकी और माता का नाम मेहरून निशा सिद्दीकी है उनके पिता एक किसान है नवाजुद्दीन को मिलाकर वह सब 9 भाई बहन है जिसमें 7 भाई 2 बहने हैं इन सब में नवाजुद्दीन सिद्दीकी सबसे बड़े हैं एक आम व्यक्ति का बॉलीवुड में काम करना और अपने आप को एक सफल और अच्छा सुपरस्टार साबित करना दोनों ही बहुत बड़ी बात है नवाजुद्दीन सिद्दीकी का बचपन मुजफ्फरनगर की गलियों में  ही बीता और यहीं से उन्होंने अपनी शुरूआती शिक्षा प्राप्त की और आगे की पढ़ाई के लिए वह हरिद्वार चले गए और वहां गुरुकुल कांगड़ी यूनिवर्सिटी ऐडमिशन लिया और केमिस्ट्री से बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री प्राप्त की !  इसके बाद वह बड़ोदरा के एक पेट्रोकेमिकल कंपनी में केमिस्ट के तौर पर काम करने लगे ! केमिस्ट के तौर पर 1 साल काम करने के बाद वह दिल्ली चले गए दिल्ली में एक नाटक देखने के बाद उनके दिमाग में एक्टर बनने का जुनून सवार हो गया वैसे उनका दिल्ली आने का मकसद एक्टर बनने का ही था क्योंकि उनके दिमाग में बचपन से ही एक्टिंग का जुनून था फिर उन्होंने दिल्ली में साक्षी थिएटर ग्रुप को ज्वाइन किया और वहीं से एक्टिंग सीखने लगे फिर उनकी मुलाकात सौरभ शुक्ला और मनोज बाजपाई से हुई नवाज़ुद्दीन एक्टिंग तो सीख ही रहे थे मगर उनके पास इनकम का कोई साधन नहीं था जिससे  वह अपना गुजारा कर पाते हैं इसके लिए उन्होंने नोएडा की एक टॉयज बनाने वाली फैक्ट्री में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करने लगे शाम को वह वापस एक्टिंग सीखना आते थे नवाजुद्दीन सिद्दीकी का शुरुआती सफ़र बहुत ही संघर्ष से भरा हुआ है लेकिन वह एक ऐसे एक्टर हैं जिन्होंने कभी हार नहीं मानी और सभी चुनौतियों का डटकर सामना किया इसके कुछ समय बाद उन्होंने दिल्ली में नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (NSD)  को ज्वाइन किया 1996 में एनएसडी की डिग्री प्राप्त करने के बाद वह मुंबई चले गए मुंबई में उनको कोई जानता नहीं था और ना ही कोई उनका गॉडफादर था जो उनका हाथ थाम सके काफी ज्यादा ठोकरे खाने के बावजूद नवाजुद्दीन को एहसास हो गया कि यह सफर इतना आसान नहीं है लेकिन नवाजुद्दीन सिद्दीकी के दिमाग में एक्टर बनने का जुनून सवार था

Nawazuddin siddiqui acting career

नवाजुद्दीन सिद्दीकी एक्टर बनने के लिए जब मुंबई आया तो उन्होंने काफी परेशानियां उठाई मुंबई की माया नगरी में इतनी सारी ठोकरें खाने के बावजूद नवाजुद्दीन ने हार नहीं मानी और जहां भी फिल्मों के लिए इंटरव्यू होते थे वह वहां पहुंच जाते थे और उन्हें बार-बार  रद्द कर दिया जाता था वह बार-बार इंटरव्यू के लिए जाते थे और उन्हें बार-बार रद्द कर दिया था नवाजुद्दीन सिद्दीकी बार-बार  रद्द किए जाने से थक चुके थे और वह वापस गांव भी नहीं जा सकते थे क्योंकि काम वालों के ताने सुनने को मिलते हैं  कुछ समय बाद नवाजुद्दीन सिद्दीकी को टीवी सीरियल में काम करने का मौका मिला इसमें नवाजुद्दीन सिद्दीकी का रोल बहुत छोटा रहता था जिसकी वजह से वह अपने आपको प्रूफ नहीं कर पाते थे नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बॉलीवुड में डेब्यू सन 1999 में आमिर खान की फिल्म सरफरोश से किया इस फिल्म में उनका रोल बहुत छोटा सा था इसके बाद उन्होंने संजय दत्त और सुनील दत्त की मुन्ना भाई एमबीबीएस में भी काम किया इसके बाद उनको छोटे-मोटे रोल मिलने लगे लेकिन नवाजुद्दीन सिद्दीकी को भरोसा था कि आज नहीं तो कल वह बॉलीवुड के सुपरस्टार जरूर बनेंगे  क्योंकि जो लगातार कोशिश करते हैं उन्हें सफलता जरूर मिलती है  जीवन में हार ना मानना ही सफलता की पहली सीढ़ी है फिर उन्होंने सन 2003 एक छोटी सी फिल्म बाईपास  में इरफान खान के साथ काम किया इसके बाद उन्होंने सन 2007 में अनुराग कश्यप की फिल्म ब्लैक फ्राइडे में एक  बेहतरीन रोल अदा किया इसके बाद इन्होंने सन 2009 में फिल्म इमोशनल अत्याचार में काम किया लेकिन उनको अंतर्राष्ट्रीय पहचान सन 2010 में आमिर खान के प्रोडक्शन में बनी फिल्म Peepli live से मिली इस फिल्म में उन्होंने एक पत्रकार का रोल अदा किया जो कि उनके लिए बहुत बड़ी बात थी आप लोग उनको पहचानने लगे थे उसके बाद उनको असली पहचान सन 2012 में रिलीज हुई फिल्म gangs of wasseypur part-1 से मिली इस फिल्म में उनकी एक्टिंग को लोगों ने काफी सराहा लोगों को उनका अभिनय बहुत ज्यादा पसंद आया उसके बाद उन्होंने काफी सारी फिल्में की जैसे सन 2012 में  आमिर खान की फिल्म  Talaash में तारीख काबिल भूमिका अदा की !  सन 2013 में  lunchbox और हॉरर फिल्म Aatma की थी जिसमें वह मुख्य रोल में नजर आए थे सन 2014 में सलमान खान की फिल्म kick  मैं जबरदस्त विलेन का रोल अदा किया सन 2015 में Badlapur,  Bajrangi Bhaijaan और manjhi-the mountain man इन फिल्मों में नवाजुद्दीन सिद्दीकी के अभिनय की लोगों ने  काफी  प्रशंसा की इसके बाद उन्होंने गुजरात पर आधारित  फिल्म Haraamkhor की ! फिल्म हरामखोर में  उनके अभिनय के लिए  न्यूयॉर्क इंडियन फिल्म फेस्टिवल में  बेस्ट एक्टर का अवार्ड भी मिला सन 2016 में freaky ali  और Raman Raghav 2.0 और सन 2017 में Raees !  और आज बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक लोग उनकी काम की प्रशंसा करते हैं दोस्तों हमें नवाजुद्दीन सिद्दीकी से सीखना चाहिए कि अगर आप लगातार फेल होते हैं तो इसका मतलब यह नहीं कि आप हर बार फेल होंगे अगर आप के अंदर कुछ कर दिखानेे का जज्बा है तो आपको भी नवाजुद्दीन सिद्दीकी जैसी सफलता एक दिन जरूर मिलेगी बस जीवन में हार नहीं माननी चाहिए लगातार कोशिश करतेे रहना चाहिए !

Love affairs of nawazuddin siddiqui

एक्टर बनने से पहले नवाजुद्दीन सिद्दीकी यूपी के मुजफ्फरनगर के एक छोटे से गांव बुढ़ाना में रहते थे और अपने पड़ोस में रहने वाली एक लड़की से प्यार करते थे वह हमेशा उस लड़की से बात करने की कोशिश करते थे लेकिन लड़की को घर से निकलने की इजाजत नहीं थी लड़की अपने पास के एक घर में टीवी देखने जाती थी वह टीवी पर कृषि दर्शन देखने जाती थी 1 दिन नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने लड़की को रास्ते में रोक लिया और कहां कृषि दर्शन में क्या रखा है कभी हमसे भी बात कर लो  लड़की शरमा गई और बोली मुझे नहीं करनी बात मुझे टीवी देखने जाने दो  नवाजुद्दीन सिद्दीकी को यह बात बुरी लग गई और चिल्ला कर बोले की वादा करता हूं एक दिन टीवी पर आकर दिखाऊंगा सालों की कड़ी मेहनत के बाद जब नवाजुद्दीन को टीवी पर एक छोटा सा रोल मिला तो उन्होंने अपने दोस्त को फोन करा की यार उस लड़की को बोल कि मैं टीवी पर आ रहा हूं फिल्म के दोस्त ने बताया कि उस लड़की की शादी हो चुकी है इस तरह एकतरफा प्रेम कहानी का अंत हो गया लेकिन नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी अपनी कामयाबी की नींव रख चुके थे


Nawazuddin siddiqui marriage 


नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने अंजली से शादी की है उनके दो बच्चे हैं एक लड़की और एक लड़का लड़की का नाम शोरा सिद्दीकी है और लड़केे का नाम यानी सिद्दीकी है

Nawazuddin siddiqui movies / Famous movies

 पीपली लाइव, सरफरोश, गैंग्स ऑफ वासेपुर, बजरंगी भाईजान, मांझी द माउंटेन मैन, फ्रीकी अली, किक, आत्मा, लंच बॉक्स, रमन राघव 2.0, हरामखोर, तलाश, रईस, बदलापुर, पतंग, जंगल, मुन्ना भाई एमबीबीएस, फैमिली, आजा नचले, द बाईपास, ब्लैक फ्राईडे, ब्लैक एंड व्हाइट, फिराक, न्यूयॉर्क, देव डी, देख इंडियन सर्कस, कहानी,  आदि

No comments:

Post a Comment