Breaking

Wednesday, 30 January 2019

Rahul Dravid Biography in Hindi | राहुल द्रविड़ का जीवन परिचय

Rahul Dravid- राहुल द्रविड़ भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान, विकेटकीपर तथा भारतीय टेस्ट टीम के महत्वपूर्ण खिलाड़ी रह चुके हैं | राहुल द्रविड़ के टेस्ट क्रिकेट में कुछ ऐसे अविश्वसनीय रिकॉर्ड है, जो भविष्य में शायद ही कोई तोड़ सके | द्रविड़ विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक है, इन्हें भारतीय क्रिकेट टीम की दीवार कहा जाता है 2005 में यह भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान नियुक्त किए गए थे लेकिन 2007 में इन्होंने कप्तानी के पद से इस्तीफा दे दिया | राहुल द्रविड़ को सन 2000 में 5 विजडन क्रिकेटरों में से एक के रूप में सम्मानित किया गया !
Biography of Rahul Dravid in Hindi, Rahul Dravid biography
Biography of Rahul Dravid in Hindi

Rahul Dravid Biography in Hindi | राहुल द्रविड़ का जीवन परिचय

राहुल द्रविड़ का जन्म 11 जनवरी 1973 को इंदौर मध्य प्रदेश में हुआ था इनके पिता का नाम शरद द्रविड़ और माता का नाम पुष्पा द्रविड़ है इनका पूरा नाम राहुल शरद द्रविड़ है इनके भाई का नाम विजय द्रविड़ है जो राहुल द्रविड़ से छोटे हैं, दोनों भाई एक साधारण मध्यवर्ग माहौल में बड़े हुए | द्रविड़ के पिता जी.ई. इलेक्ट्रिक के लिए काम करते थे. यह एक कंपनी है जो जैम और अन्य संरक्षित खाघ बनाने के लिए जानी जाती है | राहुल द्रविड़ बेंगलुरु कर्नाटक में बड़े हुए, इसलिए सेंट जोसेफ हाई स्कूल बेंगलुरु में उनकी टीम सदस्यों ने उन्हें जैमी उपनाम दे दिया था | उनकी मां बेंगलुरु विश्वविद्यालय में वास्तुकला के प्रोफ़ेसर थी | द्रविड़ ने कर्नाटक के सेंट जोसेफ कॉलेज से कॉमर्स की डिग्री प्राप्त की | राहुल द्रविड़ ने क्रिकेट की दुनिया में कई रिकॉर्ड बनाए हैं यह एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो काफी लंबी पारियां खेलते हैं जब कभी भी टीम इंडिया को एक लंबी पारी की जरूरत हुई है तब राहुल द्रविड़ ने वह भूमिका अच्छी तरह निभाई है| राहुल द्रविड़ दाएं हाथ के तकनीकी रूप से बेहद सक्षम बल्लेबाज है  और  अपनी बल्लेबाजी  तकनीक के कारण ही  वह भारतीय टीम के लिए रीढ़ की हड्डी साबित हुए हैं | उनकी शुरुआती छवि एक रक्षात्मक बल्लेबाज की बन गई | जिसे केवल टेस्ट क्रिकेट तक ही सीमित होना चाहिए उन्हें एक दिवसीय क्रिकेट से हटा दिया गया क्योंकि उनकी एकदिवसीय क्रिकेट में रन बनानेे की गति बहुत धीमी थी | हालांकि अपने करियर में वह लगातार एकदिवसीय मैचों में रन बनाने लगे, और उन्हें वर्ष के  आईसीसी  खिलाड़ी का  पुरस्कार भी मिला | द्रविड़ बहुत ही शांत स्वभाव के व्यक्ति हैं दीवार के नाम से लोकप्रिय द्रविड़ लंबी अवधि के लिए बल्लेबाजी करने की क्षमता के लिए जाने जाते हैं, सुनील गावस्कर और सचिन तेंदुलकर के बाद वह तीसरे ऐसे भारतीय बल्लेबाज है जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 10,000 सेे अधिक रन बनाए हैं | 14 फरवरी 2007 को वह विश्व क्रिकेट के इतिहास में छठे और भारत में सौरव गांगुली और सचिन तेंदुलकर केेेे बाद तीसरे बल्लेबाज बने जिन्होंने एकदिवसीय क्रिकेट में 10000 रन आंकड़ा पार किया | द्रविड़ ने 52.31 की औसत के साथ टेस्ट क्रिकेट में 36 शतक बनाए हैंं | एकदिवसीय मैचों में उनका औसत 39.17 का रहा है, वह ऐसे कुछ ही भारतीय खिलाड़ियों में से हैं जो घर के बजाय विदेशों में अधिक औसत से रन बनाते हैं द्रविड़ का विदेशी सरजमीं पर रन बनाने का औसत 10 रन अधिक रहता है !

Rahul Dravid wife- राहुल द्रविड़ ने नागपुर की एक सर्जन डॉक्टर विजेता पेंधारकर से शादी की और इनके अब दो बेटे भी हैं ! 

Rahul Dravid career | राहुल द्रविड़ का करियर

राहुल द्रविड़ ने 12 वर्ष की उम्र में ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था, और अंडर-15, अंडर-17 और अंडर-19 के स्तर पर अपने राज्य का प्रतिनिधित्व किया | द्रविड़ की प्रतिभा को पूर्व क्रिकेटर केकी तारापोरे ने देखा जो चिन्नास्वामी स्टेडियम में एक ग्रीष्मकालीन परीक्षण शिविर में कोचिंग कर रहे थे, राहुल ने अपनी स्कूल टीम के लिए शतक बनाया बल्लेबाजी के साथ साथ वह विकेट कीपिंग भी कर रहे थे, हालांकि बाद में उन्होंने पूर्व टेस्ट खिलाड़ियों गुंडप्पा विश्वनाथ, रोजर बिन्नी, बृजेश पटेल, और तारापोरे की सलाह पर विकेटकीपिंग बंद कर दी | 1991 में पुणे में उन्हें महाराष्ट्र के खिलाफ रणजी ट्रॉफी में शुरुआत करने के लिए चुना गया अभी भी वह बेंगलुरु में सेंट जोसेफ कॉलेज में पढ़ रहे थे | साथ ही वह भावी भारतीय टीम के साथी अनिल कुंबले और जवागल श्रीनाथ के साथ खेलते हुए  एक ड्रा मैच में 82 रन का स्कोर बनाया | राहुल का पहला पूर्ण सत्र 1991-92 में था, जब उन्होंने 63.3 के औसत पर 380 रन बनाकर दो शतक बनाए और दिलीप ट्रॉफी में उन्हें दक्षिणी जोन के लिए चुना गया |

राहुल द्रविड़ के अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत एक निराशाजनक तरीके से हुई | जब मार्च 1996 में विश्व कप के ठीक बाद सिंगापुर में सिंगर कप के लिए श्रीलंका क्रिकेट टीम के खिलाफ एकदिवसीय मैच खेलने के लिए उन्हें विनोद कांबली की जगह लिया गया | इसके बाद उन्हें टीम से हटा दिया गया, और फिर से इंग्लैंड दौरे के लिए चुना गया| उसके बाद उन्होंने सौरभ गांगुली के साथ इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच मेंं शुरुआत की, जब इसी दौरे में पहले टेस्ट मैच के बाद संजय मांजरेकर घायल हो गए | राहुल द्रविड़ ने 95 का स्कोर बनाया और मांजरेकर की वापसी पर 84 का स्कोर बनाया और तीसरे टेस्ट के लिए अपनी स्थिति को बनाए रखा, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अच्छेेेे प्रदर्शन के बाद द्रविड़ ने 1996-97 दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर भी इस स्थिति को बनाए रखा | उन्होंने जोहांसबर्ग में तीसरे टेस्ट मैच में तीसरे नंबर पर खेलते हुए 148 और 81 के साथ अपना पहला शतक बनाया | प्रत्येक पारी में उनका स्कोर अधिकतम था जिसने उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिलाया |

Rahul Dravid One day career | राहुल द्रविड़ का एकदिवसीय करियर

राहुल द्रविड़ ने अपने एकदिवसीय क्रिकेट करियर में 344 मैचों की 318 पारियों में 10889 रन बनाए हैं | जिसमें उनके 83 अर्धशतक और 12 शतक हैं द्रविड़ का सर्वाधिक एकदिवसीय स्कोर 153 रन है जो उन्होंने 1999  विश्व कप में श्रीलंका के खिलाफ बनाए थे तथा सौरव गांगुली के साथ मिलकर  318 रन की पार्टनरशिप करी थी जो की एक विश्व रिकॉर्ड है अपने एकदिवसीय करियर में राहुल द्रविड़ 40 बार नॉटआउट रहे हैं | एकदिवसीय मैचों में द्रविड़ ने 950 चौके और 42 छक्के लगाए हैं | अपने अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय करियर की 4 इनिंग्स में द्रविड़ ने 4 विकेट हासिल किए हैं ! 

Rahul Dravid Test Career | राहुल द्रविड़ का टेस्ट करियर

राहुल द्रविड़ ने अपने टेस्ट क्रिकेट करियर में 164 मैचों की 286 पारियों में 13288 रन बनाए हैं | जिसमें उनके 63 अर्धशतक और 36 शतक हैं द्रविड़ का सर्वाधिक टेस्ट स्कोर 270 रन है जो उन्होंने 2004 में पाकिस्तान के खिलाफ रावलपिंडी में बनाए थे अपने टेस्ट क्रिकेट करियर में 32 बार नॉट आउट रहे है, अपने अंतरराष्ट्रीय टेस्ट करियर में द्रविड़ ने 1655 चौके और 21 छक्के लगाए हैं अपने टेस्ट करियर की 5 इनिंग्स में द्रविड़ ने एक विकेट भी हासिल किया है ! 

Rahul Dravid T20 Career | राहुल द्रविड़ का T20 करियर

राहुल द्रविड़ ने अपना मात्र एक टी-20 मैच 2011 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था जिसमें उन्होंने 31 रन बनाए थे तथा इस मैच में उन्होंने 3 छक्के भी मारे थे ! 

Rahul Dravid IPL Career | राहुल द्रविड़ का आईपीएल करियर

द्रविड़ ने अपने आईपीएल करियर में 89 मैचों की 82 पारियों में 2174 रन बनाए हैं जिसमें उनके 11 अर्धशतक और शतक कोई नहीं है द्रविड़ का सर्वाधिक आईपीएल स्कोर 75 रन है जो उन्होंने 2008 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की तरफ से खेलते हुए राजस्थान के खिलाफ जयपुर में बनाए थे अपने आईपीएल करियर में राहुल द्रविड़ 5 नॉट आउट रहे हैं आईपीएल करियर में राहुल ने 268 चौके और 28 छक्के लगाए हैं |

Rahul Dravid Records | राहुल द्रविड़ के रिकॉर्ड्स

  • द्रविड़ एकमात्र खिलाड़ी है जिन्होंने देश से बाहर टेस्ट खेलने वाले प्रत्येक देश के खिलाफ शतक बनाया है
  • द्रविड़ तीसरे भारतीय और दुनिया में छठे बल्लेबाज है जिन्होंने 10,000 से ज्यादा टेस्ट क्रिकेट में रन बनाएं है
  • द्रविड़ उन तीन बल्लेबाजों में से एक है जिन्होंने लगातार 4 टेस्ट पारियों में शतक बनाए हैं
  • द्रविड़ ने सौरव गांगुली की कप्तानी में जीते गए 21 टेस्ट मैचों में भारत के द्वारा बनाए गए कुल रनों का 23% स्कोर किया है (102.84 के बल्लेबाजी औसत के साथ) यह एक ही कप्तान की कप्तानी में जीते गए मैचों में टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में किसी भी बल्लेबाज के योगदान का उच्चतम प्रतिशत है, जहां कप्तान ने 20 से अधिक टेस्ट जीत है
  • लगातार 7 टेस्ट मैचों में द्रविड़ ने 50 से अधिक रन बनाए हैं इस दृष्टि से वह भारतीय बल्लेबाजों में केवल सचिन तेंदुलकर (8)  से पीछे हैं
  • उन्होंने 94 टेस्ट मैचों की 150 पारियां 3 नंबर पर खेली है और उन्होंने इस स्थिति में 8000 से अधिक रन बनाए हैं यह दोनों तथ्य विश्व रिकॉर्ड के रूप में दर्ज है
  • वह देश के बाहर भारत के लिए किसी भी विकेट के लिए सर्वोच्च साझेदारी में शामिल रहे हैं चाहे 2006 में लाहौर में पाकिस्तान के खिलाफ 410 रन की साझेदारी हो जो उन्होंने वीरेंद्र सहवाग के साथ मिलकर बनाई थी
  • राहुल द्रविड़ सुनील गावस्कर के बाद दूसरे भारतीय बल्लेबाज है जिन्होंने एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में डबल शतक बनाए हैं गावस्कर और रिकी पॉन्टिंग मात्र बल्लेबाज जिन्होंने एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में  डबल शतक बनाए है

Rahul Dravid Awards | राहुल द्रविड़ के अवार्ड

  • 1998 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया
  • 1999 में उन्हें 1999 के विश्व कप के सीएट क्रिकेटर होने का पद मिला
  • 2000 में उन्हें विजडन क्रिकेटर ऑफ द ईयर के रूप में नामांकित किया गया
  • 2004 में उन्हें सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी विजेता का सम्मान मिला
  • 2004 में होने आईसीसी प्लेयर ऑफ द ईयर के लिए सम्मानित किया गया
  • 2004 में उन्हें पद्मश्री पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया
  • 2006 में होने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल टेस्ट टीम का कप्तान बनाया गया
  • 2011 में देव आनंद के साथ एनआईडीटीवी इंडियन ऑफ द ईयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया


Note: - Rahul Dravid Biography in Hindi कैसी लगी आप सबको प्लीज कमेंट करके जरूर बताएं और हमारे द्वारा लिखे गए  आर्टिकल में आपको कोई भी कमी नजर आती है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं हम उसमें सुधार करके अपडेट कर देंगे | अगर आपको हमारे आर्टिकल पसंद आए तो इसे Facebook,  WhatsApp और अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें !

Email subscription करें और पाएं new & more Article आपकी मेल पर !

2 comments: